उप चुनाव भाजपा के भ्रष्ट राज को उखाड़ फेंकने का सेमी फाइनल है: गोपाल राय

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने एमसीडी की 5 सीटों पर हो रहे उपचुनाव के मद्देनजर सीलमपुर विधानसभा के चौहान बांगर वार्ड में बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि एमसीडी के 5 वार्डों में हो रहा यह उप चुनाव अगले पांच साल के लिए दिल्ली का भविष्य लिखने वाला है। यह सिर्फ 5 वार्डों का चुनाव नहीं है, बल्कि एमसीडी में 15 सालों से शासन कर रही भाजपा के भ्रष्ट राज को उखाड़ फेंकने का सेमी फाइनल है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा ने नफरत की राजनीति की, लेकिन जनता ने अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में फिर से ‘आप’ की सरकार बनवाई। आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव की तरह ही एमसीडी के उप चुनाव में भी भाजपा की जमानत जप्त कराएगी। उन्होंने कहा, यह उप चुनाव कांग्रेस से नहीं, बल्कि भाजपा से मुकाबला करने का है। कांग्रेस के जीतने से कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन अरविंद केजरीवाल के हारने से फर्क पड़ेगा।
आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली नगर निगम की 5 सीटों पर हो रहे उपचुनाव के मद्देनजर आज सीलमपुर विधानसभा के चौहान बांगर वार्ड में बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। गोपाल राय ने कहा कि एमसीडी का यह उप चुनाव एक साल का चुनाव नहीं है। यह सिर्फ 5 वार्डों का चुनाव नहीं है, बल्कि दिल्ली के अंदर एमसीडी में 15 सालों से शासन कर रही भारतीय जनता पार्टी के राज को उखाड़ फेंकने का सेमी फाइनल है। जब पूरे देश के अंदर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा के नफरत की राजनीति एक राज्य से दूसरे राज्य में फतह करते जा रही थी, उस दौरान दिल्ली में अरविंद केजरीवाल उभर कर सामने आए और जब भाजपा का विजय रथ दिल्ली में आया, तो रामायण के अंगद की तरह अरविंद केजरीवाल ने अपना पैर टिका दिया। जब भाजपा के सारे नेता, मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री अरविंद केजरीवाल से हार मान लिए, तब अमित शाह आए और उन्होंने शाहीनबाग के नाम पर दिल्ली में नफरत फैलाने की कोशिश की, लेकिन वे भी सफल नहीं हुए। दिल्ली की जनता ने भरपूर प्यार दिया और अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में एक बार फिर दिल्ली में ‘आप’ की सरकार बनवाई।
गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के सीलमपुर में लोगों ने हमेशा सिर्फ कांग्रेस को वोट दिया, लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला। सीलमपुर में जो 25 साल में काम नहीं हुआ था, वह काम आम आदमी पार्टी की सरकार ने 5 साल में पूरा किया गया। दिल्ली में अगर किसी ने काम करवाया है, तो उसका नाम अरविंद केजरीवाल है। बिजली व पानी का बिल माफ करने, दिल्ली के स्कूल और अस्पताल अच्छे करने का श्रेय अरविंद केजरीवाल को जाता है। उन्होंने कहा कि हम यह चुनाव एक काउंसलर का चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। हमें भी पता है कि हाजी इसरार सीलमपुर के विधायक थे। हमने इन्हें काउंसलर का चुनाव क्यों लगाया? क्योंकि राजनीतिक रूप से यह चुनाव विधायक के चुनाव से ज्यादा मायने रखता है। यह 5 वार्डों का चुनाव अगले 5 साल दिल्ली का भविष्य लिखने वाला है। मैं वादा करता हूं कि जिस तरह से विधानसभा में हमने भाजपा की जमानत जप्त करा दी, उसी तरह इस बार एमसीडी के चुनाव में भाजपा की दुगुना मतों से जमानत जप्त कराएंगे। उन्होंने कहा कि यह चुनाव कांग्रेस से नहीं, बल्कि भाजपा से मुकाबला करने का है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अगले एक सप्ताह तक समर्पित होकर काम करने की अपील करते हुए कहा कि कांग्रेस के चुनाव जीतने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा, लेकिन अगर केजरीवाल हारते हैं, तो फर्क पड़ेगा। अरविंद केजरीवाल ने अपनी जान की बाजी लगाकर न सिर्फ भाजपा का मुकाबला किया है, बल्कि जनता के लिए काम भी किया है।

    Leave Your Comment

    Your email address will not be published.*