Sunday, December 5, 2021

कर्मचारियों और आश्रितों के लिए टीकाकरण अभियान चला रहे हैं कई कॉर्पोरटे

Must Read

नयी दिल्ली। भारत सरकार के अनुसार, भारत अब केवल 114 दिनों में 17 करोड़ से अधिक कोविड -19 वैक्सीन डोज सबसे तेजी से देने वाला देश बन गया है। इसके विपरीत, चीन को ऐसा करने में 119 दिन लगे और संयुक्त राज्य अमेरिका ने इस उपलब्धि को हासिल करने में 115 दिन का समय लिया। प्रमुख कॉर्पोरेट ब्रांड्स ने भी निजी स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को अपने पूरे वर्कफोर्स के लिए ऑन-साइट और ऑफ-कैंपस कोविड टीकाकरण अभियान चलाने के लिए जोड़ना शुरू कर दिया है। इसकी लागत कॉर्पोरेट ब्रांड्स कर रहे हैं। यह कदम देश भर में कोविड के खिलाफ सभी वयस्कों के टीकाकरण कवरेज शुरू होने के एक सप्ताह बाद आया है। वर्तमान में भारत में 464 मिलियन युवा आबादी है और उम्मीद है कि टीकाकरण अभियान को पूरा होने में 3 साल लगेंगे। हालांकि, कॉर्पोरेट कंपनियां इस समयसीमा को कम करने के लिए सरकार की ओर हाथ बढ़ा रही हैं। यहां कुछ कंपनियां हैं जो इस मोर्चे पर कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं-
एमजी मोटर
एमजी मोटर इंडिया ने पिछले हफ्ते अपने सभी कर्मचारियों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू किया था। एमजी के सभी प्रत्यक्ष और संविदा कर्मचारियों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। कार निर्माता ने गुरुग्राम और हलोल में अपने कर्मचारियों के लिए मुफ्त टीकाकरण अभियान चलाने के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ भागीदारी की है। कंपनी द्वारा दिया जाने वाला टीकाकरण स्वैच्छिक है। यह अपने सभी कर्मचारियों को टीका लगाने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है।
पेटीएम
भारत के अग्रणी डिजिटल फाइनेंशियल सर्विसेस प्लेटफॉर्म पेटीएम ने आज घोषणा की कि उसने अपने 8,000 से अधिक फील्ड सर्विस एक्जीक्यूटिव (एफएसई) का टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया है, जो इसके बिजनेस डेवलपमेंट और मर्चेंट सपोर्ट नेटवर्क का एक अभिन्न अंग हैं। कंपनी ने देशभर के प्रमुख अस्पतालों के सहयोग से 1000 से अधिक एफएसई को टीकाकरण के पहला डोज पहले ही दे दिया है। जैसे ही देश में टीकों की समग्र आपूर्ति बढ़ेगी, यह एफएसई के परिवार के सदस्यों के लिए अभियान का विस्तार करेगा।
ज़ूमकार
ज़ूमकार ने कर्मचारी कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के लिए चिकित्सा भागीदारों के साथ गठजोड़ शुरू किया है। जूमकार के कर्मचारियों और सहयोगियों को उनके संबंधित गृह राज्यों / शहर में उपलब्धता और पहुंच के अनुसार टीकाकरण के लिए सहायता प्रदान की जाएगी। टीकाकरण केंद्र, शहर, राज्य, क्षेत्र के पिनकोड और अन्य संपर्क विवरण सीधे चिकित्सा भागीदारों द्वारा व्यक्तियों को सूचित किया जाएगा। दोनों डोज का खर्च ज़ूमकार उठाएगा। यदि कर्मचारी ने पहले ही टीकाकरण कर लिया है, तो जूमकार टीकाकरण की लागत का भुगतान करेगी। टीकाकरण के बाद किसी भी दुष्प्रभाव के मामले में व्यक्ति मौजूदा अवकाश नीति के अनुसार अवकाश प्राप्त कर सकता है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एग्रीबाजार पहला ऑनलाइन एग्री-ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म बना

नयी दिल्ली। भारत की प्रमुख फुल-स्‍टैक एग्रीटेक कंपनी एग्रीबाजार ने अपने वर्चुअल पेमेंट सॉल्‍यूशन प्‍लेटफॉर्म एग्रीपे को नए अंदाज...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img