लोगों को तंबाकू का सेवन छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करेगा नया नेशनल कैम्पेन

नई दिल्ली। भारत इस समय कोविड-19 महामारी की दूसरी भयंकर लहर का सामना कर रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और भारत सरकार के नए दिशानिर्देशों में कहा गया है कि तंबाकू के सेवन से फेफड़े की बीमारी, मधुमेह, हृदय रोग और कैंसर जैसी दीर्घकालिक बीमारियों से पीड़ित लोगों को कोविड-19 से प्रभावित होने पर गंभीर रूप से बीमार पड़ने या मौत का खतरा सबसे अधिक होता है। तंबाकू का सेवन दुनिया में रोकी जा सकने वाली मौतों का सबसे प्रमुख कारण है, और भारत में सालाना लगभग 10 लाख मौतें तंबाकू सेवन के चलते होती हैं। सरकारी और निजी अस्पतालों में कुल खर्च का 5.3% अकेले तंबाकू से संबंधित बीमारियों के इलाज में उपयोग हो जाता है। पब्लिक हेल्थ से जुड़े इस मुश्किल दौर में और विश्व तंबाकू निषेध दिवस (31 मई 2021) के मौके पर, ग्लोबल हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन वाइटल स्ट्रैटेजीज और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने आज तंबाकू का उपयोग करने वालों को इसे छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक नेशनल मास मीडिया अभियान शुरू किया है। इस कैंपेन का नाम “व्हेन यू क्विट” है, जिसमें बताया गया है कि कैसे सिगरेट या बीड़ी पीने से दिल का दौरा पड़ सकता है और कोविड-19 से गंभीर रूप से बीमार होने का खतरा भी बढ़ सकता है। पब्लिक सर्विस एनाउंसमेंट (पीएसए) में बताया गया है कि जब तंबाकू का सेवन करने वाला व्यक्ति धूम्रपान छोड़ता है, तब कैसे उसे अच्छी सेहत का अनुभव होता है। पीएसए इस साल के विश्व तंबाकू निषेध दिवस की थीम “कमिट टू क्विट” के साथ जुड़ा है। इसके तहत यह लोगों से आग्रह कर रहा है कि तंबाकू को छोड़ने के लिए जरूरी संसाधन और मदद के लिए वे राष्ट्रीय तंबाकू क्विटलाइन (1800-11-2356) का उपयोग कर सकते हैं।
डब्ल्यूएचओ कई भारतीय भाषाओं में विकसित “व्हेन यू क्विट” कैम्पेन ऑल इंडिया रेडियो, माई एफएम और रेडियो सिटी के माध्यम से तंबाकू के सर्वाधिक उपयोग वाले 169 जिलों को शामिल करते हुए 15 राज्यों में प्रसारित किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, वाइटल स्ट्रैटेजीज प्रमुख ऑनलाइन स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म – फेसबुक, हॉटस्टार, वूट, ज़ी5, सोनीलिव और एमएक्स प्लेयर के माध्यम से इस संदेश को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाएगा। भारत में डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डॉ. रोडरिको एच ओफ्रिन ने कहा, “कोविड-19 की गंभीर स्थिति और तंबाकू के बीच संबंध को देखते हुए, तंबाकू का सेवन बंद करने के बारे में जागरूकता फैलाने की जरूरत पहले से और भी अधिक बढ़ गई है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस (WNTD) तंबाकू के उपयोग और सेकेंड हैंड स्मोक एक्सपोजर के हानिकारक और घातक प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाने और किसी भी रूप में तंबाकू के उपयोग को हतोत्साहित करने का एक बेहतर मौका है। इस वर्ष WNTD की थीम “कमिट टू क्विट” का उद्देश्य दुनिया भर में 100 मिलियन लोगों को तंबाकू छोड़ने के उनके प्रयासों में मदद करना है। हम सभी को ऐसा स्वस्थ वातावरण बनाने में मदद करनी चाहिए जो तंबाकू का सेवन छोड़ने के लिए अनुकूल हो।”
वैशाखी मलिक, एसोसिएट डायरेक्टर, वाइटल स्ट्रैटेजीज ने कहा, “इस कैंपेन के जरीये हमें भारत सरकार के साथ तंबाकू महामारी के खिलाफ लड़ाई को तेज करने में डब्ल्यूएचओ के साथ सहयोग करने पर गर्व है। “व्हेन यू क्विट” कैंपेन भारत में महामारी के एक ऐसे मुश्किल समय पर शुरू हुआ है जब देश भर में मामले बढ़ रहे हैं और जटिल बीमारियों से जूझ रहे लोगों में कोविड-19 के चलते गंभीर रूप से बीमार पड़ने का खतरा बढ़ रहा है। “व्हेन यू क्विट” जैसा पब्लिक एजुकेशन कैंपेन तंबाकू के उपयोग से होने वाले सेहत के नुकसान का प्रसार करने, इसे रोकने के प्रयासों में मदद करने और तंबाकू महामारी पर ध्यान देने की एक महत्वपूर्ण रणनीति है।“ “व्हेन यू क्विट” को वाइटल स्ट्रैटेजीज़ द्वारा विकसित और कड़े मानदण्डों पर परखा जा चुका है। उत्तर देने वालों ने पी.एस.ए. को समझने में आसान पाया है। उन्होंने बताया कि इसे देखने के बाद उन्हें पूरी तरह लगा कि वे धूम्रपान छोड़ सकते हैं और उन्हें स्पष्ट रूप से यह समझ आया कि धूम्रपान छोड़ने से धीरे-धीरे उनके स्वास्थ्य को कैसे लाभ होगा।

    Leave Your Comment

    Your email address will not be published.*