Category: लेख

इस महिला दिवस पर पाईए वित्तीय आत्मनिर्भरता

विनीत कपाही, हेड ऑफ मार्केटिंग, अवीवा इंडिया अपने खर्च व उद्देश्यों की सूच बनाएं – ‘बुद्धिमान बनें’ अपने व्यक्तिगत लक्ष्य
Read More
शर्म नहीं, शक्ति का प्रतीक है माहवारी

शर्म नहीं, शक्ति का प्रतीक है माहवारी

सौम्या ज्योत्स्ना, मुज़फ़्फ़रपुर, बिहार देश में किशोरी एवं महिला स्वास्थ्य के क्षेत्र में पिछले कुछ वर्षों में काफी सुधार आया
Read More
झारखंड में थम नहीं रहा कालाजार का प्रकोप

झारखंड में थम नहीं रहा कालाजार का प्रकोप

शैलेन्द्र सिन्हा, दुमका, झारखंड इसमें कोई दो राय नहीं है कि इस समय देश और दुनिया में कोरोना एक महामारी
Read More
उत्तराखंड जल संकट : छोटे प्रयास से बड़ा समाधान निकलेगा

उत्तराखंड जल संकट : छोटे प्रयास से बड़ा समाधान निकलेगा

गिरीश चंद्र ‘गोपी’ अल्मोड़ा, उत्तराखंड उत्तराखंड में 2013 में आई आपदा और फिर 7 फरवरी को चमोली के तपोवन में आई
Read More
बाल लेखक लिखेंगे देश की गाथा

बाल लेखक लिखेंगे देश की गाथा

युवराज मालिक भारत दुनिया में पुस्तकों का तीसरा सबसे बड़ा प्रकाशक है,  इसके बावजूद हमारे देश में लेखन को एक
Read More
बीहड़ में स्त्री स्वाभिमान की जागरूकता

बीहड़ में स्त्री स्वाभिमान की जागरूकता

सूर्यकांत देवांगन भानुप्रतापपुर, छत्तीसगढ़ भारतीय समाज में आज भी बड़ी संख्या में महिलाएं पीरियड्स को लेकर कई मिथकों और संकोचों में
Read More
संकट को संभावनाओं में बदलती महिलाएं

संकट को संभावनाओं में बदलती महिलाएं

शिरीष खरे, पुणे, महाराष्ट्र कोरोना संक्रमण के संकट को पीछे छोड़ते हुए भारत ने एक साथ दो वैक्सीन बना कर
Read More
थार के पारिस्थितिक तंत्र में अक्षय ऊर्जा की संभावनाएं

थार के पारिस्थितिक तंत्र में अक्षय ऊर्जा की संभावनाएं

दिलीप बीदावत, बाड़मेर, राजस्थान रेगिस्तान में अक्षय ऊर्जा अर्थात सौर और विंड एनर्जी निर्माण की अपार संभावनाएं हैं। यहां साल
Read More
Paleontologists Discover First North American

Paleontologists Discover First North American

There are many variations of passages of Lorem Ipsum available, but the majority have suffered alteration in some form, by
Read More
Running from science? | Western Farmer Stockman

Running from science? | Western Farmer Stockman

There are many variations of passages of Lorem Ipsum available, but the majority have suffered alteration in some form, by
Read More