Tuesday, December 7, 2021

पुरस्कार विजेता शॉर्ट फिल्म ‘टेलिंग पॉन्‍ड’ को डॉक्यूमेंट्री सीरीज़ में बनाया जाएगा

Must Read

मुंबई। समकालीन निर्देशक श्री सौरव विष्णु द्वारा निर्देशित, एक पुरस्कार विजेता लघु फिल्म ‘टेलिंग पॉन्ड’ को 2022-2023 में छह-एपिसोड की डॉक्यूसीरीज में पेश करने की पुष्टि की गई है। ‘टेलिंग पॉन्ड’ ने ऑस्कर के लिए क्‍वालिफाई किया है। इसमें दिखाया गया है कि झारखंड के जादुगोरा में आदिवासी परिवार कैसे पुरानी चिकित्सा स्थितियों से पीड़ित हैं। उनके दुःख का एकमात्र कारण यूरेनियम रेडिएशन है। ‘सेक्स एंड द सिटी’ स्टार सिंथिया निक्सन द्वारा सुनाई गई, 20 मिनट की यह शॉर्ट फिल्म दर्शकों को निर्दोष आदिवासी लोगों पर यूरेनियम रेडिएशन के भयानक प्रभावों का संक्षिप्त परिचय देती है। शॉर्ट फिल्म को बनाने में पांच साल की कड़ी मेहनत लगी और इसकी शूटिंग में 160 घंटे से अधिक का समय लगा। आने वाली डॉक्यूसीरीज जादूगोरा की कहानी में गहराई से उतरेगी।

1951 में, भारत सरकार ने यूरेनियम में अपने भविष्य का एहसास किया और 1967 में, देश के सभी यूरेनियम खनन गतिविधियों की देखरेख के लिए यूरेनियम कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (यूसीआईएल) का गठन किया। जादूगोरा में आदिवासी परिवारों के जीवन में यूसीआईएल का निर्माण एक विनाशकारी मोड़ बन गया। दिल दहला देने वाली डॉक्यूमेंट्री उस क्रूरता पर प्रकाश डालती है जिसका सामना एक गांव कर रहा है। हालांकि, अपकमिंग डॉक्यूसीरीज गांवों में और उसके आसपास के अन्य तालाबों और परमाणु कचरा डंपिंग की गैर-जिम्मेदाराना प्रथाओं को उजागर करेगी। परिवार कई पीढ़ियों से पीड़ित हैं और अभी भी परमाणु प्रदूषण से प्रभावित हैं। तालाबों से निकलने वाला गारा (स्‍लरी) स्थानीय मिट्टी और भूजल में रिस गया है, जिससे स्थानीय लोग अत्यधिक जहरीले रेडियोऐक्टिव अपशिष्‍ट के एक्‍सपोज़र में आ गए हैं।

इस घोषणा पर अपनी बात रखते हुए, ‘टेलिंग पॉन्ड’ के निदेशक, सौरव विष्णु ने कहा, “हम शॉर्ट फिल्म से मिली दर्शकों की सकारात्मक प्रतिक्रिया से रोमांचित हैं। अब हम इस नैरेटिव को छह-एपिसोड की डॉक्यूसीरीज में विस्तारित करने की योजना बना रहे हैं जो जादूगोरा की पूरी कहानी की गहराई से जानकारी देगी। हम 12 अतिरिक्त परिवारों पर प्रकाश डालेंगे जो रेडिएशन पॉइज़निंग के शिकार हैं और पीढ़ियों से पीड़ित हैं। इस सीरीज में प्रासंगिक कार्यकर्ताओं और हमारे समाज के अन्य महत्वपूर्ण सदस्यों के साथ साक्षात्कार भी शामिल होंगे, जो इस बात पर बहस करेंगे कि यह मुद्दा दशकों से क्यों छुपा हुआ है। अपनी निष्पक्ष कहानी से, हम आदिवासी लोगों के दुख-दर्द और पीड़ा को वरिष्ठ अधिकारियों के ध्‍यान में लाएंगे।”

जादूगोरा के लिए यहाँ दान करें- http://jadugora.com/

2017 में विष्णु द्वारा शुरू किया गया जादूगोरा नॉन फ़ॉर प्रॉफ़िट है (501 (सी) 3)। नॉन फ़ॉर प्रॉफ़िट जादूगोरा समुदायों और उनके लोगों के लिए धन जुटाता है। जादुगोरा में आदिवासी आबादी के लिए बोतलबंद पानी की सुविधा की स्थापना के संबंध में साझेदारी निर्मित करने के लिए नॉन फ़ॉर प्रॉफ़िट कुछ भागीदारों के साथ बातचीत कर रहा है। श्री विष्णु प्रभावित आबादी के लिए कम से कम 100 रोजगार सृजित करने और उन हजारों परिवारों को स्वच्छ, स्‍थायी पेयजल उपलब्ध कराने पर विचार कर रहे हैं, जो अपने घरेलू कामों और पीने के पानी के लिए दूषित नदी, कुओं और हैंडपंम्‍प्‍स पर निर्भर हैं। जादूगोरा के लिए दान करना लोगों के जीवन को हमेशा के लिए बदलने की दिशा में एक बड़ा कदम होगा।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एग्रीबाजार पहला ऑनलाइन एग्री-ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म बना

नयी दिल्ली। भारत की प्रमुख फुल-स्‍टैक एग्रीटेक कंपनी एग्रीबाजार ने अपने वर्चुअल पेमेंट सॉल्‍यूशन प्‍लेटफॉर्म एग्रीपे को नए अंदाज...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img