Tuesday, January 18, 2022

लखीमपुर कांड: SIT के खुलासे ने आशीष मिश्रा की मुश्किलें बढ़ायी

Must Read

नयी दिल्ली। लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में आशीष मिश्रा टेनी समेत सभी 14 आरोपियों की मुश्किलें कई गुना बढ़ती जा रही है। जांच अधिकारी ने आरोप पत्र दाखिल करने से पहले मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत से हत्या, गंभीर चोट पहुंचाने और अवैध हथियार बरामद करने से जुड़ी और कड़ी धाराएं जोड़ने की अपील की है। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर कांड को लेकर एसआईटी ने बड़ा खुलासा किया है। एसआईटी की तरफ से लखीमपुर खीरी कांड को बड़ी साजिश बताया गया है। जिसके बाद गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा की मुश्किलें भी अब बढ़ सकती हैं। एसआईटी ने कहा है कि किसानों को कुचलने की घटना कोई गैर इरादतन नहीं थी। बल्कि पूरी प्लानिंग के साथ इस घटना को अंजाम दिया गया। एसआईटी ने अब आरोपियों पर लगाई गई धाराएं भी बदल दी है। एसआईटी के इस बड़े खुलासे से केंद्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पुत्र आशीष मिश्रा समेत सभी 13 आरोपियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

ज्ञात रहे कि 3 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया गांव में हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी। आरोप है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा टेनी उर्फ ​​’मोनू’ ने जानबूझकर प्रदर्शन कर रहे किसानों को अपनी कार से कुचल दिया। इस घटना के बाद भीड़ ने हंगामा किया और आशीष मिश्रा के ड्राइवर समेत तीन लोगों की हत्या कर दी। अदालत की निगरानी में एक विशेष जांच दल द्वारा मामले की जांच की जा रही है, जिसमें दुर्भाग्यपूर्ण घटना के लिए 14 लोगों को आरोपी के रूप में गिरफ्तार किया गया है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

एण्डटीवी के कलाकारों ने कराई दिलवालों को दिल्ली की सैर

नयी दिल्ली। पर्यटन को प्रमोट करने और उसे प्रोत्साहन देने के लिये हर साल 25 जनवरी को नेशनल टूरिज्म...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img