Saturday, February 24, 2024

विवेक रंजन अग्निहोत्री ने स्वामी विवेकानन्द जयंती का मनाया जश्न

Must Read

मुंबई। विवेक रंजन अग्निहोत्री भारतीय सिनेमा के उन फिल्ममेकर्स में से एक हैं जो अपनी कहानियों के जरिए समाज और जनता को आईना दिखाते हैं। फिल्म मेकर की दो रियल लाइफ स्टोरीज, ‘द कश्मीर फाइल्स’ और ‘द वैक्सीन वॉर’ ने दर्शकों पर अमिट छाप छोड़ी है। जी हां, जहां फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ ने अपनी कहानी और दृढ़ विश्वास से देश को चौंका दिया और प्रतिष्ठित राष्ट्रीय पुरस्कार सहित कई पुरस्कार हासिल किए, वहीं दूसरी फिल्म भारतीय महिला वैज्ञानिकों की भावना और कोरोना वैक्सीन के पीछे के दिमाग का सम्मान करता है।
स्वामी विवेकानंद जयंती के दिन अग्रणी फिल्म निर्माता ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो साझा किया, जिसमें वह एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दर्शकों को संबोधित करते नजर आ रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह स्वामी जी के जबरदस्त फॉलोअर हैं और उन्होंने आगे कहा कि वो स्वामी विवेकानन्द जी के जीवन भर सेवक बने रहेंगे।
वीडियो को शेयर करते हुए फिल्म निर्माता ने कैप्शन दिया, “स्वामी विवेकानन्द के साथ मेरा रिश्ता। सुनिए।”
VivekanandaJayanti”

https://twitter.com/vivekagnihotri/status/1745664927753252878?s=48&t=NldEpY3n6_Z8Fa525-IrVw
इस खास दिन पर विवेक रंजन अग्निहोत्री आगे आए और उन्होंने विवेकानन्द जी के प्रति अपना सम्मान दिखाते हुए कहा, “आइए विवेकानन्द को अपनाएं। वह मेरी सभी फिल्मों और मेरी सक्रियता के पीछे प्रेरणा हैं। यही कारण है कि मैंने बॉलीवुड छोड़ दिया और डिसरप्टिव सिनेमा बनाने में भारत की मूल स्थिति को ध्यान में रखकर इंवेस्ट किया। विवेकानन्द ने भारतीय संस्कृति और सभ्यता को अपग्रेड किया है। इस पर काम चल रहा है और मैं बस यही कर रहा हूं – भारत के खोए हुए गौरव और इतिहास को अपग्रेड करना और फिर से बताना ताकि युवाओं को हमारी अद्भुत विशाल सभ्यता पर गर्व हो सके।”
इस बीच, काम के मोर्चे पर, विवेक रंजन अग्निहोत्री ने बेंगलुरु में एक भव्य कार्यक्रम के दौरान अपनी अगली फिल्म का एलान कर लोगों को सरप्राइज किया है। इस बहुप्रतीक्षित परियोजना का टाइटल ‘पर्व’ है, जो एक महाकाव्य सिनेमाई यात्रा होने का वादा करती है, क्योंकि यह मशहूर लेखक एस.एल. भैरप्पा द्वारा लिखे गए आइकोनिक उपन्यास ‘पर्व’ पर आधारित होगी। यह फिल्म तीन-भाग वाली ब्लॉकबस्टर फ्रेंचाइजी बनने के लिए तैयार है, जो भारतीय सिनेमा के इतिहास में अपनी जगह पक्की कर लेगी।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

जीवन और समाज की वास्तविक घटनाओं से प्रेरित है आखिर पलायन कब तक

नयी दिल्ली। आखिर पलायन कब तक' का स्पेशल स्क्रीनिंग पिछले दिनों दिल्ली के पीवीआर सिनेमा हॉल में संपन्न हुआ।...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img