Wednesday, November 30, 2022

अवीवा इंडिया ने अवीवा प्रोटेक्शन प्लस लॉन्च किया

Must Read

नई दिल्ली। भारत की सबसे भरोसेमंद प्राईवेट लाईफ इंश्योरेंस कंपनी, अवीवा लाईफ इंश्योरेंस ने अवीवा प्रोटेक्शन प्लस का लॉन्च करने की घोषणा की है। यह एक नॉन-लिंक्ड नॉन-पार्टिसिपेटिंग व्यक्तिगत लाईफ इंश्योरेंस सेविंग्स प्लान है। यह प्लान न केवल किसी अनपेक्षित घटना के मामले में वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है, बल्कि पॉलिसी की अवधि पूरी होने तक जीवित रहने पर एश्योर्ड मैच्योरिटी राशि भी प्रदान करता है। इस प्लान में ग्राहकों को टर्म इंश्योरेंस का फायदा मिलता है और ‘टर्मसेज्यादा’ बेनेफिट्स भी मिलते हैं, जिनके तहत मैच्योरिटी तक जीवित रहने पर प्रीमियम का 125 प्रतिशत तक रिटर्न मिलता है।
अवीवा प्रोटेक्शन प्लस प्रीमियम पर रिटर्न के मैच्योरिटी बेनेफिट, बेहतर सुरक्षा, और सेविंग्स बूस्टर विकल्पों के साथ आकर्षक विशेषताएं प्रदान करता है; और परिवार को उच्च डेथ सम के साथ वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है, तो पॉलिसीधारक की दुखद मृत्यु के बाद देय होता है। इसके अलावा, यह प्लान सिंगल या नियमित प्रीमियम भुगतान की शर्त के साथ उपलब्ध है। साथ ही इसके द्वारा व्यक्ति को विभिन्न प्रीमियम भुगतान फ्रीक्वेंसी मोड का विकल्प भी मिलता है, और वह 80 साल तक लाईफ कवरेज, प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष टैक्स बेनेफिट्स और उच्च सम एश्योर्ड पर रीबेट जैसे फायदे प्राप्त कर सकता है।
विनीत कपाही, हेड ऑफ मार्केटिंग ने कहा, ‘‘टर्म इंश्योरेंस लोगों के बीच सबसे पसंदीदा प्लान है क्योंकि यह किफायती होने के साथ लचीलापन भी प्रदान करता है। हमारे ग्राहकों को टर्म कवर एवं अन्य फायदे एक ही प्लान में प्रदान करने के लिए हमने अवीवा प्रोटेक्शन प्लस का लॉन्च किया। यह प्लान आपको अपने प्रोफाईल के अनुरूप सबसे उत्तम वित्तीय सुरक्षा चुनने का अवसर देता है। इसमें पॉलिसी की शुरुआत में बेसिक और एडिशनल डेथ सम एश्योर्ड तथा मैच्योरिटी सम एश्योर्ड के विभिन्न विकल्प चुनने को मिलते हैं।’’
उन्होंने आगे कहा, ‘‘इस लॉन्च के साथ हम भेदभाव के खिलाफ खड़े होना चाहते थे क्योंकि यह उत्पाद महिलाओं, पुरुषों और ट्रांसजेंडर्स सभी को बीमा देता है। हमारे अभियान ष्रुज्मतउैर्मलंकंएष् के साथ हम अपेक्षाओं से ज्यादा बेनेफिट्स प्राप्त करने की ग्राहकों की इच्छा से जुड़ना और इस विश्वास को मजबूत करना चाहते हैं कि अवीवा प्रोटेक्शन प्लस के साथ वो अपने परिवार को अपनी गैरमौजूदगी में भी वित्तीय सुरक्षा दे सकते हैं, और मैच्योरिटी तक जीवित रहने पर उन्हें वित्तीय लाभ प्राप्त हो सकते हैं।’’

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

अवादा फाउंडशेन ने मथुरा के पांच विद्यालयों को अगीकृत किया

मथुरा। अवादा ग्रुप की समाज कल्याण संस्था, अवादा फाउंडशेन ने अपने उत्कृष्ट शिक्षा अभियान का प्रारंभ मथुरा के राजकीय...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img