Sunday, September 25, 2022

आईआईएसएसएम का दो दिवसीय कॉन्केल्व 16 और 17 दिसम्बर को

Must Read

नई दिल्ली। इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटी एंड सेफ्टी मैनेजमेंट (आईआईएसएसएम-IISSM) का दो दिवसीय 31 वां अन्तराष्ट्रीय कॉन्केल्व आगामी 16 से 17 दिसम्बर को आभासी (वर्चुअल) आयोजित किया जायेगा। आई.आई.एस.एस.एम के दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय कॉन्क्लेव का उद्घाटन प्रधानमंत्री के सलाहकार और पूर्व प्रशासनिक अधिकारी श्री अमित खरे करेंगे। इस दो दिवसीय कॉन्केल्व में सुरक्षा और उससे जुड़े हानि निवारण उद्योगों के आधुनिकीकरण विषय को लेकर देश-विदेश के एक हजार से अधिक विभिन्न व्यवसाय से जुड़े पेशेवर, विशेषज्ञ और विद्वान चर्चा करेंगे।
आई.आई.एस.एस.एम के दो दिवसीय अन्तराष्ट्रीय वार्षिक कॉन्केल्व से पूर्व श्री एस.के. शर्मा राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के पूर्व महानिदेशक और वर्तमान में आई.आई.एस.एस.एम के अध्यक्ष ने कहा कि आज कोविड महामारी के इस समय में सभी ने तकनीक को तेजी से अपनाया है। वैसे में सुरक्षा और हानि निवारण से जुड़े उद्योगों ने भी तकनीक के साथ खुद को आधुनिक बनाया है। इस बार का २ दिवसीय कॉन्क्लेव भी “मोर्डनाइज़ेशन इन द सिक्योरिटी, सेफ्टी एन लॉस प्रिवेंशन इंडस्ट्री” के विषय पर रखा गया है । इस बार देश-विदेश के विशेषज्ञ अपने अनुभव साझा करेंगे और मुझे पूरा विश्वास है की इस कॉन्क्लेव के बाद आप अपने उद्योगों में नए आधुनिक तकनीकों से समस्याओं का समाधान कर पाएंगे ।
आई.आई.एस.एस.एम के कार्यपालक अध्यक्ष और राज्यसभा के पूर्व सदस्य श्री आर. के. सिन्हा ने बताया कि आप निश्चित रूप से सहमत होंगे कि यह विषय इस समय अत्यंत प्रासंगिक है जब कोरोना महामारी के कारण लगे प्रतिबंधों में हमारे ग्राहकों की उच्चतर दक्षता की मांग है। आज हम और हमारे उद्योग जिन बाधाओं का सामना किया है और कर रहे हैं उसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी लेकिन इस परस्थिति में भी हमने अवसर खोज लिया है। इस कारण जो बदलाव हमारे उद्योगों को करने पड़े हैं उसका फ़ायदा भी मिलने लगा है। इस २ दिवसीय कॉन्क्लेव में हमारे विशेषज्ञ, नीतिनिर्धारक, प्रशासक और विद्वान इसी विषय पर चर्चा करेंगे की कैसे हम अपनी तकनीकों से इन चुनौतियों का सामना कर सकते हैं। इस सम्मेलन के दौरान आपके विचार-विमर्श एवं सुझाव इस कॉन्क्लेव शामिल सभी पेशेवरों को मदद करेंगे। साथ ही नई रणनीतियों को तैयार करने में सहायक होंगे। मैं आई.आई.एस.एस.एम के 31वें कॉन्केल्व की सफलता की कामना करता हूं। उल्लेखनीय है कि आई.आई.एस.एस.एम पिछले 31 वर्षों से हितधारकों को नियमित वार्षिक कॉन्क्लेव / सेमिनार और विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से सुरक्षा और हानि निवारण से संबंधित मुद्दों के समाधान के लिए जागरूक करने का प्रयास कर रहा है।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Latest News

आप का भाजपा शासित एमसीडी पर कूड़ा उठाने के नाम पर 84 करोड़ के घोटाले का आरोप

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ने भाजपा शासित एमसीडी पर कूड़े के नाम पर 84 करोड़ का घोटाला करने...
- Advertisement -spot_img

More Articles Like This

- Advertisement -spot_img